बचपन की यादें (poem on childhood memories)

बचपन की यादें (poem on childhood)–

बचपन जिंदगी का सबसे खुबसूरत और यादगार पड़ाव होता है ,जिंदगी बड़ी ही चिंतामुक्त लगती थी। बचपन में बने दोस्त और उनके साथ  बिताये पल सबसे अनमोल औए सच्चे होते है, न किसी तरह का दिखावा न मन में कपट।

केवल नासमझ सी जिंदगी जो बेहद आसान से लगती थी ।आज मै अपनी इस कविता के माध्यम से आप सबके बचपन की यादों को ताजा करने का एक सुन्दर प्रयत्न करना चाहती हूँ ।

बचपन की यादें —

बचपन पर कविता

कुछ बेपरवाह और बेहद बेफिक्री सा गुजरा था …

कुछ बेपरवाह और बेहद बेफिक्री सा गुजरा था । 

पलट कर देखा तो पता लगा वो मेरे जीवन का सबसे मासूम टुकड़ा था । 

अरे अब जहन में आया वो तो धुल में लिपटा हुआ मेरा सुनहरा बचपन था । 

मेरा चिल्लरो से भरा खन खन करता वो गुल्लक, वो छुपम छपाई कड़ी दुपहरी में भी देती थी ठंडक ।

 वो बारिश के पानी में कागज की ढेरो नाव चलाना ,वो मीठी गोलिया भी लगती थी खुशियों का खजाना । 

छुट्टी के दिन सारा मोहल्ला नाप लेते थे ,उन झूठ-मूठ के खेलो को भी बड़ी सच्चाई से खेलते थे। 

वो स्कूल के बस्तों को हर रोज सजाना ,वो स्कूल में ही कभी पेन्सिल कभी रबड़ का खो जाना । 

वो छुट्टी की घंटी बजते ही यूँ दौड़ लगाना, न जाने कहा खो गया वो मनमौजी जमाना । 

उन गर्मी की छुट्टियों में हुल्लड़ मचाना , शाम को माँ की डांट सुनकर ही घर वापस जाना । 

उन रेत के ढेरों से सुन्दर आशियाँ बनाना , कितनी आसान लगती थी ये जिंदगी । 

बड़ा ही नासमझ था वो गुजरा हुआ बचपन का जमाना । 

वो दोस्तों से झगड़ना वो रूठना मनाना , वो परीक्षा की घड़िया ,वो किताबों का जमाना । 

बचपन में होती थी त्योहारों की असली ख़ुशी ,अब तो हर त्यौहार लगता है एक आम सा दिन । 

न जाने कहा खो गये  वो  सब नादान असली चेहरे , बड़े होकर लगा लिए सबने चेहरे पे न जाने कितने चेहरे । 

काश वो बेफिक्री के दिन मै फिर से जी सकती , काश उन  दिनों में वापस जा के कुछ देर ठहर सकती । 

To read more hindi poem visit the link

About the author

Deepmala Singh

View all posts

1 Comment

  • Sach hai .kass wo din fir aa jaye.wo school jana .wo dosto ke sth nach gana.khana pina.yaar i miss so much my bachpan ke din.subah subah uthna mammy papa ka pyar .bhai bahan se takarar sb yaar aata hai .wo bachpan baht yaad aata hai.👬👫👭👪

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *